Home
Result

Bihar Vacancy : 22 साल बाद हुआ बड़ा बदलाव, एक पढाई से मिलेगी नौकरी

Post Last Updates: Saturday, October 29, 2022 @ 3:08 PM

Bihar Vacancy : 22 साल बाद हुआ बड़ा बदलाव, एक पढाई से मिलेगी नौकरी

Bihar Vacancy : 22 साल बाद हुआ बड़ा बदलाव, एक पढाई से मिलेगी नौकरी

Bihar Vacancy :

बिहार में पढाई कर रहे छात्रों के लिए ये एक बड़ी खबर है, जैसा की लगभग 22 साल बाद बिहार की शिक्षा पद्धति अब बदलने जा रही है जिसका सीधा असर राज्य में मिलने वाली सरकारी नौकरियों पर पड़ेगा. बिहार के सभी विश्वविद्यालयों में अगले सत्र से स्नातक स्तर पर सीबीसीएस (च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम) लागू किया जाएगा। इसके लिए प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके साथ ही बीआरए बिहार विश्वविद्यालय समेत राज्य के सभी विश्वविद्यालयों का पाठ्यक्रम बदल जाएगा।




Download SarkariExam Mobile App

पाठ्यक्रम बदलने की जिम्मेदारी राजभवन की है। इसके लिए अनुरोध पत्र राजभवन को भेज दिया गया है। राजभवन अब कुलपतियों की कमेटी बनाकर सिलेबस बदलने का काम पूरा करेगा। नया सिलेबस नेट, बीपीएससी और यूपीएससी की परीक्षाओं को ध्यान में रखकर बनाया जाएगा। इसके बाद ग्रेजुएशन का नया सिलेबस राजभवन की ओर से विश्वविद्यालयों को भेजा जाएगा।




Bihar Vacancy : 22 साल बाद हुआ बड़ा बदलाव

विश्वविद्यालयों में ग्रेजुएशन का सिलेबस 22 साल पुराना है। बीआरए बिहार विश्वविद्यालय के हिंदी विभाग के प्रमुख प्रो. सतीश कुमार राय ने बताया कि तीन साल बाद पीजी पाठ्यक्रम में बदलाव किया गया, लेकिन इन सभी वर्षों में स्नातक पाठ्यक्रम में कोई बदलाव नहीं हुआ. साल 2002, साल 2012 और फिर 2018 में पीजी के सिलेबस में बदलाव किया गया। पीजी में साल 2018 में सीबीसीएस लागू किया गया।

Video देखें पैसे कमाए – Click Here

Bihar Vacancy : नंबर के बजाय दिए जाएंगे ग्रेड और क्रेडिट

च्वाइस बेस्ड क्रेडिट सिस्टम (CBCS) में, छात्रों को नंबर के बजाय ग्रेड और क्रेडिट दिए जाते हैं। छात्र अपनी पसंद के अनुसार विषयों का चयन करते हैं। उदाहरण के लिए, यदि हिंदी का कोई छात्र विज्ञान भी पढ़ना चाहता है, तो वह इसके लिए एक कक्षा चुन सकता है। छात्र को उसकी उपस्थिति और क्रेडिट अंक मिलेंगे।

Download SarkariExam Mobile App

Bihar Vacancy : एक पढाई से मिलेगी नौकरी

एक पढाई से नौकरी मिलने का अर्थ ये है कि जिस तरह से इस नए सिलेबस को नेट, बीपीएससी और यूपीएससी की परीक्षाओं को ध्यान में रखते हुए तैयार किया जायेगा, जिससे छात्रों को काफी हद तक अपनी स्नातक डिग्री पूरी करने के साथ ही सरकारी नौकरियों की तैयारी करने का मौका मिलेगा और छात्र एक साथ कई तरह की नौकरियों और परीक्षाओं की तैयारी भी कर सकेंगे.

Advertisement

More Jobs For You

Download Mobile App