Home
Result






लद्दाख में हिंसक टकराव के बाद भारतीय सेना का जवाब- चीन के 3 सैनिक भी मारे गए

Post Last Updates: Tuesday, June 16, 2020 @ 2:26 PM

लद्दाख में हिंसक टकराव के बाद भारतीय सेना का चीन को जवाब- चीन के 3 सैनिक भी मारे गए

भारत और चीन के की सीमा (वास्तविक नियंत्रण रेखा) पर तनाव कम होने की बजाय बढ़ गया है। ताजा जानकारी के अनुसार भारत और चीन के सैनिकों के बीच LAC पर स्थित गलवन घाटी में बड़ी झड़प हुई है। इसमें एक भारतीय अफसर और दो जवानों के शहीद होने की सूचना है।  शहीदों में एक कमांडिंग अफसर है। चीन के साथ इस झड़प से दोनों देशों के बीच तनाव और अधिक बढ़ सकता है। पूरे घटनाक्रम को लेकर विदेश मंत्रालय और सेना के विस्तृत बयान का इंतजार किया जा रहा है।  दोनों देशों के सेना के उच्च अधिकारी मौके पर बातचीत करके स्थिति को संभालने में जुटे हैं। रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने तीनों सेना प्रमुखों, विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर और चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ जनरल बिपिन रावत के साथ बैठक बुलाई है। 

बता दें कि भारतीय और चीनी सैनिकों में पैंगोंग सो इलाके में 5 मई को हिंसक झड़प हुई थी जिसके बाद से दोनों पक्ष वहां आमने-सामने थे और गतिरोध बरकरार था। यह 2017 के डोकलाम घटनाक्रम के बाद सबसे बड़ा सैन्य गतिरोध बन रहा था। छह जून को हुई थी वार्ता दोनों देशों के बीच मौजूदा तनाव को लेकर अब तक की उच्च स्तरीय वार्ता 6 जून को हुई थी।

सेना ने बयान में कहा है कि लद्दाख के गालवान घाटी में चीन के साथ हिंसक टकराव में दोनों पक्षों को सैनिक हताहत हुए हैं। चीन के भी तीन सैनिकों के मारे जाने की भी खबर है।

-इधर इसपर नेताओं की प्रतिक्रिया आने शुरू हो गई है। उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने ट्वीट किया- गलवान वैली, लद्दाख से चीनी मुठभेड़ में हमारे कमांडिग ऑफ़िसर और दो सैनिकों की शहादत का समाचार मिला है। भावपूर्ण नमन सरकार से इन हालातों में भारत-चीन सीमा पर वास्तविक स्थिति के स्पष्टीकरण की अपेक्षा है।

-वहीं कांग्रेस के प्रवक्ता रणदीप सूरजेवाला ने इस घटना पर ट्वीट किया – चौंका देने वाला, अविश्वसनीय और गवारा नहीं! क्या रक्षा मंत्री पुष्टि करेंगे?

गौरतलब है कि बीते पांच हफ्तों से गलवान घाटी में बड़ी संख्या में भारतीय और चीनी सैनिक आमने-सामने खड़े थे। यह घटना भारतीय सेना प्रमुख जनरल एम एम नरवणे के उस बयान के कुछ दिन बाद हुई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि दोनों देशों के सैनिक गलवान घाटी से पीछे हट रहे हैं।

Advertisements




More Jobs For You

Download Mobile App